खाना पानी

कच्चा प्याज खाने के फायदे – प्याज का औषधीय उपयोग

कच्चा प्याज खाने के फायदे – प्याज के औषधीय उपयोग – प्याज मराठी में लाभ आपको यह जानने की जरूरत है क्योंकि अगर आप प्याज के फायदे जानते हैं जो आपके घर में हमेशा उपलब्ध होते हैं, तो आप निश्चित रूप से उनका उपयोग अपने स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए कर सकते हैं। आज हम यहां प्याज के औषधीय उपयोगों को देखने जा रहे हैं।

जैसा कि आप जानते ही होंगे कि कच्चा प्याज खाना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। प्याज को आप सलाद में कच्चा इस्तेमाल कर सकते हैं। क्या आप कच्चा प्याज नहीं खाते ? अगर नहीं तो आज से ही कच्चा प्याज खाना शुरू कर दें। क्योंकि कच्चा प्याज खाने के कई फायदे होते हैं। कच्चे प्याज में सल्फर और अन्य आवश्यक विटामिन होते हैं। जो शरीर को कई बीमारियों से दूर रखते हैं। आप कच्चे प्याज को सैंडविच, सलाद और चटनी में खा सकते हैं।
प्याज का औषधीय उपयोग

पेट की सफाई: कच्चे प्याज में फाइबर की मात्रा अधिक होती है। जिससे पेट में फंसा खाना बाहर निकल जाता है। कच्चा प्याज खाने से पेट साफ होता है। इसलिए कब्ज वाले लोगों को कच्चा प्याज खाने की जरूरत होती है।

खून को शुद्ध करने के लिए प्याज में फास्फोरिक एसिड होता है जो आपके खून को साफ करता है। प्याज का पेस्ट बना लें और इसे अपने पैरों के तलवों पर लगाएं ताकि फॉस्फोरिक एसिड आपकी धमनियों में प्रवेश करे और अशुद्धियों को दूर करे।

पेशाब ज्यादा आना : चटनी बनाने के लिए 4 प्याज को बारीक काट लें और उसमें उतनी ही मात्रा में गेहूं का आटा मिला लें. फिर जब यह हल्का गर्म हो जाए तो इस पेस्ट को पेट पर लगाकर लेट जाएं। इससे अत्यधिक पेशाब रुक जाएगा।

पुरुषों को करता है जवान : प्याज के रस और शहद को बराबर मात्रा में मिलाएं। इस मिश्रण का सेवन कमजोर पुरुषों को जवां बनाता है। इतना ही नहीं यह गले की खराश और खांसी को भी ठीक कर सकता है।

शरीर को मजबूत बनाता है प्याज, शहद और दानेदार चीनी को एक साथ मिलाकर खाने से पेट संबंधी बीमारियां दूर होती हैं और शरीर मजबूत होता है।

नशा मुक्ति के लिए : रगों में रहने वाले व्यक्ति को रोजाना एक प्याज का रस पीने से नशा हो जाता है।

सर्दी : 10-20 मिलीलीटर प्याज के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर दिन में 2-3 बार चाटने से सर्दी-जुकाम से छुटकारा मिलता है।

आंखों की रोशनी : प्याज के रस में शहद मिलाकर आंखों पर लगाने से आंखों की रोशनी तेज होती है।

काले धब्बे: चेहरे पर काले धब्बे से छुटकारा पाने के लिए उस पर प्याज का रस लगाने से काले धब्बे से छुटकारा मिलता है और चेहरे की चमक बढ़ती है।

अगर नाक से खून बह रहा हो: नाक से खून बह रहा हो तो प्याज का रस नाक में डालने से नाक और गले का संक्रमण ठीक हो जाता है और नाक से खून बहना ठीक हो जाता है।

अनिद्रा: 4 चम्मच कच्चे लाल प्याज का रस पीने से नींद अच्छी आती है।

दमक रहा है शरीर : अगर शरीर दमक रहा है तो आराम पाने के लिए प्याज के गर्म रस से पैरों के तलवों की मालिश करें।

त्वचा पर मालिश: प्याज का रस लगाने से यह नष्ट हो जाती है।

मिर्गी या फिट: 72 मिलीलीटर प्याज के रस को थोड़े से पानी में मिलाकर रोज सुबह पीने से मिर्गी का दौरा बंद हो जाता है। ऐसा आप कम से कम 40 दिनों तक कर सकते हैं। ठीक हो जाए तो रोगी को प्याज के रस की गंध आने दें, वह सामान्य हो जाता है।

कान के दर्द का उपाय : कान में दर्द, कान बजना या बहरापन होने पर प्याज के रस को थोड़ा गर्म करके 5-7 बूंदे डालने से लाभ होता है।

गंजापन: प्याज का रस लगाकर गंजे स्थान पर मालिश करने से बाल वापस आ जाएंगे और बालों का झड़ना बंद हो जाएगा।

हिचकी : प्याज को काट कर धो लीजिये, नमक डाल कर रोगी को पिलाने से हिचकी बंद हो जाती है.

कब्ज : कच्चा प्याज रोज खाने से कब्ज दूर होती है। या प्याज का अर्क 40 मिलीलीटर रोजाना दिन में 2-3 बार फायदेमंद होता है।

पेट के कीड़े और अपच : 1 चम्मच प्याज का रस हर 2-2 घंटे में रोगी को पिलाने से पेट के कीड़े मर जाते हैं और अपच दूर हो जाती है।

एसिडिटी : 30 ग्राम दही में 60 ग्राम सफेद प्याज के टुकड़े मिलाकर 7 दिनों तक दिन में कम से कम 3 बार खाने से एसिडिटी में लाभ होता है।

एड़ी फटना : कच्चे प्याज को बाँटकर एड़ी पर बांधने से एड़ी का फटना ठीक हो जाता है।

बवासीर: 100 मिलीलीटर प्याज का रस और 50 ग्राम चीनी मिलाकर पीने से बवासीर में आराम मिलता है।

हाथ और पैर का विच्छेदन: गर्म प्याज के रस से पैरों के तलवों की मालिश करने से आराम मिलता है।