आज भी बॉर्डर पर शहीद जवान की आत्मा दे रही है पहरा। मृत्यु के बाद भी सैलरी और प्रमोशन मिल रहा है।

baba harbhajan singh

भारतीय सेना में बहोत सारे जवान है और अपने काम वे बहोत सतर्कता से निभाते है। हर किसी जवान की कोई न कोई खासियत रहती है।

भारतीय सेना में ऐसा ही एक जवान था जिसकी आत्मा आज भी बॉर्डर पर पहरा देती है। इतना ही नहीं उस जवान को आज भी सेना सैलरी और प्रमोशन दे रही है। बाबा हरभजन सिंह नाम का यह जवान अपना काम करते हुए ही एक हादसे में शहीद हुए। मृत्यु के बाद उनके स्मरण में गंगटोक में एक मंदिर भी बनाया गया है जिसे बनकर कहते है और सभी सैनिक आज भी बड़ी श्रद्धा से पूजा करते है।

१९६८ तक हरभजन सिंह २४ पंजाब रेजिमेंट में जवान थे। अपनी ड्यूटी करते हुए एक दुर्घटना में उनकी मौत हुई। लेकिन तब उनका देह सैनिको को नहीं मिला। कहा जाता है की बाद में हरभजन सिंह एक जवान के सपने में आकर अपने देह का पता बताया और उसी जगह पर उनका देह मिला। फिर वहींपर एक बनकर भी बनाया गया और पूजा भी होने लगी।

वहा के सैनिकों का कहना है की बाबा हरभजन सिंह हमेशा वहा के सैनिकों की रक्षा करते है। और अगर चीन ने कोई चालबाजी की तब भी वे तुरंत सैनिकों को खबर देते है। आश्चर्य की बात यह है की आज भी भारतीय सेना बाबा हरभजन सिंह को तनखा और प्रमोशन दे रही है।

ऐसे देशभक्त के देशभक्ति को कोटि कोटि सलाम।

Please follow and like us:

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *